प्रदेश में कोई भूमिहीन और आवासहीन नहीं रहेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान

सबको मिलेगा पक्का घर
9.54 लाख स्वीकृत आवासों में से 6.81 लाख आवास पूर्ण
भू-माफिया से छुड़ाई गई 23 हजार एकड़ भूमि पर बनेंगे गरीबों के मकान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 70 हजार हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश
30 हजार को कुल 300 करोड़ की राशि अंतरित की

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के शहरी क्षेत्रों सहित ग्रामों में कोई भूमिहीन और आवासहीन नहीं रहेगा। हर व्यक्ति को पक्का घर मिलेगा। प्रदेश में भू-माफियाओं से लगभग 23 हजार एकड़ भूमि छुड़वाई गई है, जिन पर गरीबों के पक्के मकान बनाये जायेंगे। प्रदेश में स्वीकृत 9 लाख 54 हजार स्वीकृत आवासों में से 6 लाख 81 हजार आवास बन गए हैं।

हितग्राहियों से किया संवाद

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवास योजना का लाभ प्राप्त करने वाले 3 हितग्राहियों से संवाद भी किया। इनमें आगर मालवा जिले के नलखेड़ा की श्रीमती अंजली यादव, धार के श्री विष्णु कुमार और नरसिंहपुर की श्रीमती लता बाई शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने हितग्राहि यों से उनके परिवार के सदस्यों और परिवारों द्वारा किए जा रहे कार्य, व्यवसाय की जानकारी ली। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से मिल रहे लाभ के संबंध में भी हितग्राहियों से बातचीत की। हितग्राहियों ने प्रधानमंत्री आवास और अन्य योजनाओं के लाभ के लिये मुख्यमंत्री श्री चौहान को ह्रदय से धन्यवाद दिया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज रवीन्द्र भवन, भोपाल में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में एक लाख से अधिक हितग्राहियों को हितलाभ वितरित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवास योजना के 30 हजार हितग्राहियों को 300 करोड़ की राशि सिंगल क्लिक से हितग्राहियों के खाते में अंतरित की। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में 70 हज़ार हितग्राहियों को गृह प्रवेश करवाया और हितग्राहियों से संवाद भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गाँव से शहर आकर रहने वाले मजदूरों को शहरों में दीनदयाल रसोई योजना में पाँच रुपए की रियायती दर पर भोजन शीघ्र मिलने लगेगा। स्वच्छता के क्षेत्र में रहवासी संघ सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। स्वच्छता के क्षेत्र में इन्हें भविष्य में भी पुरस्कृत किया जाएगा। नगरीय निकाय भी जन-कल्याण और स्वच्छता के क्षेत्र में आगे पुरस्कृत होंगे।

स्वच्छता में अव्वल आने की हो प्रतिस्पर्धा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर निरंतर भारत का स्वच्छतम नगर घोषित हुआ है। भोपाल स्वच्छतम राजधानी है। यहाँ नागरिकों में स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता है। भोपाल नगर के निवासी चाहें तो देश में स्वच्छता के क्षेत्र में प्रथम आ सकते हैं। अच्छे कार्यों के लिए प्रतिस्पर्धा होना ही चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल के नागरिकों के साथ ही प्रदेश के नागरिकों और समस्त जन-प्रतिनिधियों से स्वच्छता क्षेत्र में प्रयास बढ़ाते हुए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के प्रयास करने का आहवान किया।

195 करोड़ 56 लाख रूपए की चुंगी क्षतिपूर्ति की राशि जारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि नगरीय निकायों में राशि के संबंध में कठिनाई की जानकारी मिलते ही चुंगी क्षतिपूर्ति की 195 करोड़ 56 लाख रूपये की राशि सभी निकायों को जारी कर दी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर्स कल्याण योजना में मध्यप्रदेश प्रथम है। छोटे दुकानदारों से निकायों द्वारा तहबाजारी नहीं ली जा सकेगी।

आवास योजना में श्रेष्ठ कार्य करने वाले निकायों को किया पुरस्कृत

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवास योजना में समग्र प्रगति के आधार पर सर्वोत्तम प्रदर्शन करने वाले निकायों को पुरस्कृत किया। नगर निगम श्रेणी में देवास, नगर पालिका श्रेणी में सनावद और बेगमगंज एवं नगर परिषद श्रेणी में बदरवास, ओंकारेश्वर और बंडा को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए। प्रधानमंत्री आवास योजना(शहरी) में विशेष अभियान के अंतर्गत 7जून से 30 जून तक सर्वोत्तम प्रदर्शन वाले निकायों में नगर निगम श्रेणी में देवास, नगर पालिका श्रेणी में बड़वानी और गोहद एवं नगर परिषद श्रेणी में बदरवास, कुक्षी और उन्हेल को पुरस्कृत किया गया। पुरस्कृत अधिकारियों में श्री जीएस सलूजा, श्री जे के जैन, श्रीमती नेहा पटेल, श्री सोनल शर्मा, श्री मुनीस अहमद अंसारी और श्री इंदर लीलानी शामिल हैं।

गरीबों की आँखों में होते हैं भगवान के दर्शन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भूमि और जल जैसे धरती के संसाधन सभी लोगों के लिए हैं, लेकिन इनमें गरीबों का हिस्सा पर्याप्त नहीं है। इसलिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आवास योजना के माध्यम से गरीबों को लाभान्वित करने का कार्य किया है। हर व्यक्ति का सपना होता है कि उसका एक मकान हो। इस सपने को पूरा करवाने के लिए प्रधानमंत्री जी धन्यवाद के पात्र हैं। पं. दीनदयाल उपाध्याय जी भी कहा करते थे कि भगवान के दर्शन करने हैं तो दीन-दुखियों की सेवा कर दीजिए और गरीबों के आँसू पोंछ दीजिए। आपको गरीबों की आँखों में भगवान के दर्शन अवश्य हो जाएंगे। जनता ही जनार्दन है। दरिद्र नारायण है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश मेरा मंदिर है, इसकी जनता ही भगवान है। मैं इस मंदिर के पुजारी की भूमिका में हूँ। प्रदेश में शहरों के साथ ही ग्रामों में भी बहुमंजिला इमारतें बनाकर आवासहीनों को आवास सुविधा प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों को आवास सहित नि: शुल्क राशन, आयुष्मान कार्ड की सुविधा, उज्ज्वला योजना में रसोई गैस कनेक्शन, लाड़ली लक्ष्मी और लाड़ली बहना योजनाओं का लाभ और उच्च शिक्षा के लिए विद्यार्थियों को शिक्षण शुल्क प्रदान करने का कार्य हो रहा है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना में महिलाओं को राशि ही नहीं आत्म-सम्मान भी दिया जा रहा है।

पुरस्कृत हुए रहवासी संघ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल नगरीय क्षेत्र में स्वच्छता के अंतर्गत कॉलोनी के पुरस्कृत रहवासी संघों को बधाई देते हुए कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में उनकी सक्रियता सराहनीय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवास क्षेत्र में नगरीय विकास विभाग को 10 से अधिक अवार्ड जीतने पर बधाई दी। उन्होंने स्वच्छता क्षेत्र में भी श्रेष्ठ कार्य के लिए निकायों को बधाई दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा स्वच्छता के लिए मार्केट और रहवासी संघ पुरस्कृत किए गए। मुख्यमंत्री ने नागरिकों को कंपोस्ट किट भी प्रदान किए। कार्यक्रम के पूर्व उन्होंने आवास योजना में प्राप्त अवार्ड की गैलरी और कंपोस्ट खाद की प्रक्रिया के बारे में स्टॉल पर जाकर तकनीकी जानकारी प्राप्त की।मध्य प्रदेश ने वर्ष 2020 से 2023 के मध्य आवास क्षेत्र में 10 अवार्ड प्राप्त किए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इसके लिए नगरीय विकास एवं आवास विभाग को बधाई दी।

आवास आवंटन प्रमाण-पत्र वितरित

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोकता ट्रांसपोर्ट नगर भोपाल के 5 हितग्राहियों श्रीमती माया श्रीवास्तव, श्रीमती लक्ष्मी राठौर, श्री सतीश कुमार धाकड़े, श्रीमती सोनम रैकवार और श्री शुभम मांझी को स्थाई आवास आवंटन प्रमाण-पत्र वितरित किये।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के 70 हजार हितग्राहियों का गृह प्रवेश कराने के साथ ही 30 हजार से अधिक हितग्राहियों को 300 करोड़ की राशि भी अंतरित की जा रही है। नगरीय क्षेत्रों में विभिन्न विकास कार्यों के लिये मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना विकास योजना- चतुर्थ चरण में 332 करोड़ रूपये स्वीकृत किये गये हैं। मध्यप्रदेश में किये जा रहे विकास कार्यों का ही परिणाम है कि वर्तमान में प्रति व्यक्ति आय एक लाख 40 हजार रूपये से अधिक है। प्रदेश में सवा करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर आ गये हैं। यह सब विकास कार्यों और गरीब कल्याण योजनाओं का परिणाम है। सवा करोड़ बहनों को लाड़ली बहना बनाने के साथ ही गरीबों को अब 5 रूपये थाली में भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। स्ट्रीट वेंडर योजना में 7 लाख से अधिक पथ व्यवसायी लाभान्वित हो चुके हैं। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री ने 2 वर्ष में पौध-रोपण का रिकार्ड बनाया है। प्रदेश अभी विकास के क्षेत्र में देश के 5 प्रमुख राज्यों में शामिल है। मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में आगामी 5 साल में मध्यप्रदेश, देश में नंबर-1 पर होगा।

नगरीय विकास एवं आवास राज्य मंत्री श्री ओ.पी.एस. भदौरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के पिटारे से प्रतिदिन प्रदेश के विकास और गरीबों के कल्याण के लिये करोड़ों रूपये खर्च किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशानुसार विभाग जन-कल्याण के लिये तत्परता से कार्य करता रहेगा।

कन्या पूजन और दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग, महापौर श्रीमती मालती राय, अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे। अनेक जन-प्रतिनिधि कार्यक्रम से वर्चुअली भी जुड़े।

Leave a comment

आमिर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म “महाराज” ओटीटी पर 14 जून को रिलीज होगी खूंखार लुक के साथ हुई Bajaj Pulsar NS400 लांच, सिर्फ इतने प्राइस में बनाएं अपना कियारा आडवाणी की चमकी किस्मत हाथ लगी सलमान खान की अपकमिंग फिल्म सिकंदर वेलकम टू द जंगल में इन स्टार की हुई एंट्री करेंगे फिल्म में धमाल The Great Indian Kapil Show: कपिल के शो में विक्की और सनी कौशल ने खोली एक दूसरे की पोल, हंस हंसकर लोट पोट हुए लोग