समान तकनीक पर काम करते हुए भी ChatGPT से कैसे अलग है AutoGPT

AutoGPT एक ओपन-सोर्स प्रयास है जो GPT-4 को पूरी तरह से स्वशासित बनाने का प्रयास करता है। इस नई तकनीक के कई उपयोग हैं जिसमें इंटरनेट सर्च और प्लान ऑटोनॉमस कोडिंग में किया जाता है। आइये इसके बारे में जानते हैं।

ChatGPT के आने के साथ ही Ai ने लगातार विकास किया है। हाल ही में GPT-4 ने एक नए Ai मॉडल को पेश किया है, जिसे Auto-GPT नाम दिया गया है। इसे Ai की शुरुआती चिंताओं के बावजूद गेम चेंजर माना जा रहा है। Auto-GPT का विकास उसी नाम के एक ओपन-सोर्स पायथन एप्लिकेशन की शुरुआत के साथ शुरू हुआ। इस नवोन्मेष ने आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस की क्षमता का प्रदर्शन करके इसके प्रति लोगों के दृष्टिकोण बदलने में मदद की है।

क्या है AutoGPT?

AGI को समझना AutoGPT को समझने के लिए जरूरी है, जो एक ऑटोनॉमस GPT-4 प्रयोग है। इसका उद्देश्य भविष्य से जुड़े रहना है, जहां GPT जैसे AI मॉडल स्वतंत्र रूप से परिभाषित किए ज सकते हैं और बिना किसी मानवीय हस्तक्षेप के उद्देश्यों को पाने के लिए कार्य कर सकते हैं।

AutoGPT एक ओपन-सोर्स प्रयास है, जो GPT-4 को पूरी तरह से स्व-शासित बनाने का प्रयास करता है। इसने हाल के दिनों में दुनिया भर में लोकप्रियता हासिल की है। कई प्रोग्रामर्स ने YouTube वीडियो के माध्यम से AutoGPT की क्षमता का प्रदर्शन किया है। इस लेटेस्ट तकनीक के कई उपयोग हैं, जिसमें इंटरनेट सर्च और प्लान, ऑटोनॉमस कोडिंग और डिबगिंग के लिए एक एजेंट के रूप में कार्य करना और एक स्वतंत्र ट्विटर बॉट के रूप में कार्य करना शामिल है।

AutoGPT की विशेषताएं

Auto-GPT कई फीचर्स मिलते हैं। इनमें जानकारी खोजने और एकत्र करने के लिए इंटरनेट कनेक्टिविटी, दीर्घकालिक और अल्पकालिक मेमोरी को मैनेज करने की क्षमता,



टेक्स्ट जनरेशन के लिए GPT-4 इंस्टेंसेस तक एक्सेस, लोकप्रिय वेबसाइटों और प्लेटफार्मों तक पहुंच, और GPT-3.5 का उपयोग करके फाइल स्टोरेज और सारांश क्षमताएं पेश करना शामिल हैं। .

AutoGPT एक ऐसा एप्लिकेशन है, जिसे कार्य करने के लिए Python 3.8 या उसके बाद के वर्जन, एक OpenAI API कुंजी और एक PINECONE API कुंजी की जरूरत होती है। यूजर्स से अनुरोध किया है कि वे एप्लिकेशन का उपयोग करके अपने अनुभवों पर प्रतिक्रिया दें। इसके अलावा, AutoGPT चलाना महंगा हो सकता है और यूजर्स को अत्यधिक खर्च से बचने के लिए OpenAI के साथ API कुंजी सीमाएं सेट और मॉनिटर करने की सलाह दी जाती है।

ऐसे करता है काम

सबसे एडवांस भाषा मॉडल, GPT-4 पर आधारित होने के कारण AutoGPT में लिखित और बोली जाने वाली भाषा दोनों को आसानी से समझने की क्षमता है। यह इसे सप्लाई सीरीज मैनेजमेंट, ग्राहक सेवा, मार्केटिंग, वित्तीय विश्लेषण, सामग्री निर्माण, उत्पाद विकास, साइबर सुरक्षा, मानव संसाधन, अनुवाद, जैसे कई उद्देश्यों की सेवा करने में सक्षम बनाता है।

Ai के क्षेत्र में विकास

स्वतंत्र कार्य प्रबंधन के लिए GPT-4 की शक्ति का उपयोग करने की अपनी क्षमता को देखते हुए, AI विशेषज्ञ AutoGPT को कृत्रिम बुद्धिमत्ता के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण विकास मानते हैं। उनका मानना है कि इस नवाचार में मानव-मशीन संपर्क में क्रांतिकारी बदलाव लाने की क्षमता है, जिससे अधिक प्रभावी संचार को सक्षम किया जा सकता है।



Leave a comment

आमिर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म “महाराज” ओटीटी पर 14 जून को रिलीज होगी खूंखार लुक के साथ हुई Bajaj Pulsar NS400 लांच, सिर्फ इतने प्राइस में बनाएं अपना कियारा आडवाणी की चमकी किस्मत हाथ लगी सलमान खान की अपकमिंग फिल्म सिकंदर वेलकम टू द जंगल में इन स्टार की हुई एंट्री करेंगे फिल्म में धमाल The Great Indian Kapil Show: कपिल के शो में विक्की और सनी कौशल ने खोली एक दूसरे की पोल, हंस हंसकर लोट पोट हुए लोग