हरदा छोटा लेकिन विकसित और समृद्ध जिला : राज्यपाल श्री पटेल

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा कि हरदा छोटा जिला होने के बाद भी विकसित और समृद्ध जिला है। यहाँ के लोग परिश्रमी हैं। वे विकास की दौड़ में अपना समस्त योगदान देने के लिये तत्पर दिखाई देते हैं। यह बात राज्यपाल श्री पटेल ने गुरूवार को हरदा जिले के दौरे पर ग्राम रहटगांव और केलझिरी के ग्रामीणों को कई सौगातें देते हुए कहीं। किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व और मार्गदर्शन में हरदा विकास के मार्ग पर अग्रसर है। राज्यपाल श्री पटेल ने ग्राम रहटगांव में 29 करोड़ 33 लाख रूपये के एकलव्य आवासीय विद्यालय भवन का लोकार्पण किया। केलझिरी में विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ प्रदान किये। स्थानीय सासंद श्री डी.डी. उइके, टिमरनी विधायक श्री संजय शाह और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

राज्यपाल श्री पटेल ने ग्राम रहटगांव में एकलव्य आवासीय विद्यालय भवन की सौगात देते हुए कहा कि बच्चों को अपने क्षेत्र के साथ ही प्रदेश और देश का नाम रौशन करने के लिये खूब पढ़ना-लिखना है। शिक्षा ही आगे बढ़ने के मार्ग को प्रशस्त करती है। उन्होंने बताया कि आज प्रदेश के सभी 52 जिलों में उनके दौरे पूर्ण हो गये हैं। ग्राम केलझिरी में राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि उन्होंने अभी तक जितने आँगनवाड़ी केन्द्रों का भ्रमण किया है, उनमें केलझिरी का आँगनवाड़ी केन्द्र सबसे सुन्दर और व्यवस्थित है। राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि राज्य सरकार ने हाल ही में लाड़ली बहना योजना प्रारम्भ की है। योजना से महिलाओं की आर्थिक स्थिति सुधरेगी तथा समाज और परिवार में उनका सम्मान बढ़ेगा। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा करोड़ों गरीब परिवारों को पक्के मकान और निःशुल्क गैस कनेक्शन की सुविधा दी है। उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि जनजातीय बहुल ग्रामों में आँगनवाड़ी केन्द्रों में आने वाले बच्चों और महिलाओं का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए, जिससे सिकल सेल एनिमिया संबंधी रोग की पहचान हो सके और समय पर उपचार किया जा सके।

कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि राज्यपाल श्री पटेल ने सिकल सेल एनिमिया के प्रति लोगों को जागरूक करने का महती कार्य किया है। उन्होंने कहा कि हरदा देश का पहला जिला है, जहाँ सबसे पहले स्वामित्व योजना का लाभ लोगों को मिलना सुनिश्चित किया गया। हरदा के श्री रामभरोस विश्वकर्मा लाभान्वित होने वाले पहले हितग्राही हैं। राज्य और केन्द्र सरकार ग्रामीणों और किसानों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिये विभिन्न योजनाएँ बेहतर तरीके से क्रियान्वित कर रही हैं, जिससे आमजन के मन में हमारी सरकार के प्रति विश्वास पक्का हुआ है।

राज्यपाल ने छात्राओं से किया संवाद

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने रहटगांव आवासीय विद्यालय का लोकार्पण करने के बाद छात्राओं से चर्चा की। उन्होंने मन लगाकर पढ़ाई तथा गुरूजनों और माता-पिता का सम्मान करने की सीख दी। राज्यपाल श्री पटेल ने उपस्थित छात्राओं से चर्चा करते हुए कहा कि वे मिल-जुल कर रहें और स्कूल, माता-पिता और गुरूजनों का नाम रौशन करें। राज्यपाल ने स्कूल भवन का अवलोकन भी किया।

केलझिरी में आँगनवाड़ी का किया अवलोकन, पौधा लगाया, गायों को चारा खिलाया

राज्यपाल श्री पटेल ने ग्राम केलझिरी में आँगनवाड़ी केन्द्र का अवलोकन कर बच्चों से व्यवस्थाओं और पोषण आहार संबंधी जानकारी ली। राज्यपाल ने आँगनवाड़ी भवन की व्यवस्थाओं और साज-सज्जा की सराहना की। उल्लेखनीय है कि ग्राम केलझिरी का आँगनवाड़ी केन्द्र “एडॉप्ट एन आँगनवाड़ी” कार्यक्रम में कलेक्टर श्री ऋषि गर्ग ने गोद लेकर सौन्दर्यीकरण और विकास की जिम्मेदारी ली है। राज्यपाल श्री पटेल ने ग्राम केलझिरी में मौलश्री का पौधा लगाया और गो-सेवा कर गायों को चारा भी खिलाया।

स्वास्थ्य शिविर का लिया जायजा

राज्यपाल श्री पटेल ग्राम केलझिरी में चिकित्सा शिविर में भी पहुँचे। उन्होंने में उपचार के लिये आये सिकल सेल एनिमिया के मरीजों और चिकित्सकों से चर्चा की और टीबी के मरीजों को निक्षय किट प्रदान की। राज्यपाल ने स्व-सहायता समूहों द्वारा तैयार सामग्री तथा वन विभाग द्वारा “एक जिला-एक उत्पाद” कार्यक्रम में चयनित बाँस उत्पादों की प्रदर्शनी के स्टाल का भी निरीक्षण किया।

केलझिरी में हितग्राहियों को दी सौगातें

राज्यपाल श्री पटेल ने ग्राम केलझिरी में सामुदायिक चौपाल में विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किये। महिला स्व-सहायता समूहों की दीदियों से संवाद किया और कु. पूर्वी और प्रज्ञा को लाड़ली लक्ष्मी योजना का प्रमाण-पत्र प्रदान किया। इस दौरान ग्राम टेमरूबहार के जनजातीय कलाकारों ने लोकनृत्य प्रस्तुत किये। सरपंच श्री सुनील साठे ने राज्यपाल का मोरपंख युक्त साफा पहना कर सम्मान किया। वन सुरक्षा समिति के अध्यक्ष श्री रामदास ने राज्यपाल को गोंडी जैकेट भेंट की। ग्राम की श्रीमती भूरीबाई उइके और वंदना छापरे ने अपनी सफलता की कहानी भी सुनाई।

पुल और सड़क निर्माण की घोषणा

कृषि मंत्री श्री पटेल ने क्षेत्रीय विधायक की मांग पर केलझिरी मार्ग के रपटे पर बड़ा पुल के निर्माण तथा कायदा, बोरपानी, रातामाटी ग्रामों को जोड़ने वाली सड़क का डामरीकरण मंडी निधि से कराने की घोषणा की। उन्होंने कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग को पुल निर्माण का प्राक्कलन तैयार करने के निर्देश भी दिये।

सांसद श्री उइके ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में देश और प्रदेश निरन्तर प्रगति कर रहा है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना के लागू होने से महिलाओं को हर माह 1000 रूपये नियमित मिलने लगेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण आजीविका मिशन के महिला स्व-सहायता समूहों से ही देश और प्रदेश की महिलाएँ सशक्त हुई है और उनका हौसला बढ़ा है।

विधायक श्री संजय शाह ने कहा कि टिमरनी विधानसभा क्षेत्र में स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सराहनीय कार्य किया है। जो महिलाएँ पहले घर से बाहर नहीं निकलती थी, अब वे व्यवसाय कर रही है और अपनी आय बढ़ा कर परिवार का पालन-पोषण भी कर रही है।


Leave a comment

आमिर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म “महाराज” ओटीटी पर 14 जून को रिलीज होगी खूंखार लुक के साथ हुई Bajaj Pulsar NS400 लांच, सिर्फ इतने प्राइस में बनाएं अपना कियारा आडवाणी की चमकी किस्मत हाथ लगी सलमान खान की अपकमिंग फिल्म सिकंदर वेलकम टू द जंगल में इन स्टार की हुई एंट्री करेंगे फिल्म में धमाल The Great Indian Kapil Show: कपिल के शो में विक्की और सनी कौशल ने खोली एक दूसरे की पोल, हंस हंसकर लोट पोट हुए लोग