Bank FD Rates: क्या बैंक एफडी में निवेश आगे भी बना रहेगा मुनाफे का सौदा

Bank FD Rates आरबीआई की ओर से मई 2022 से फरवरी 2023 तक रेपो रेट में 2.50 प्रतिशत का इजाफा किया गया था। इस कारण निवेशकों को बैंक एफडी पर आकर्षक ब्याज मिल रहा है। कल आरबीआई की मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) के फैसले का एलान किया जाना है। ऐसे में एफडी ब्याज दरों की चाल कैसी रहेगी। आइए जानते हैं। 

Bank FD Rates

    आरबीआई एमपीसी के फैसलों का एलान 10 अगस्त को किया जाएगा।

    आरबीआई की मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की बैठक 8 अगस्त से शुरू हो गई है। यह बैठक 10 अगस्त तक चलेगी और इस तारीख को ही आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की ओर से एमपीसी के फैसलों का एलान किया जाएगा। तब ही सामने आएगा कि आरबीआई द्वारा ब्याज दरों को बढ़ाया, घटाया और स्थिर रखा जाता है। ऐसे में लोगों को मन में सवाल उठ रहा है कि क्या ये एफडी कराने का सही समय है?

    RBI द्वारा ब्याज दर बढ़ाने पर क्या होगा?

    अगर आरबीआई की ओर से रेपो रेट को बढ़ाया जाता है तो बैंक द्वारा एफडी पर ब्याज को बढ़ाया जा सकता है। निवेशकों को पहले के मुकाबले अधिक ब्याज मिल सकता है।
    RBI द्वारा ब्याज दर घटाने पर क्या होगा?

    आरबीआई द्वारा अगर ब्याज दरों घटाया जाता है तो बैंकों की ओर से भी एफडी पर ब्याज को घटाया जा सकता है। निवेशकों को अभी के मुकाबले कम ब्याज मिल सकता है।

    RBI द्वारा ब्याज दर स्थिर रखने पर क्या होगा?

    अगर केंद्रीय बैंक की ओर से रेपो रेट को जस के तस रखा जाता है। फिर बैंकों पर निर्भर करता है कि वह ब्याज दर को बढ़ाते या घटाते हैं।
    क्या मौजूदा समय पर ब्याज दर पीक पर है?

    रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से 2022 में महंगाई को काबू में लाने के लिए ब्याज दरों को बढ़ाना शुरू किया था। केंद्रीय बैंक द्वारा रेपो रेट में मई 2022 में 0.40 प्रतिशत, जून 2022 में 0.50 प्रतिशत, अगस्त 2022 में 0.50 प्रतिशत, सितंबर 2022 में 0.50 प्रतिशत, दिसंबर 2022 में 0.35 प्रतिशत और फरवरी 2023 में 0.25 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई थी, जिस कारण रेपो रेट 4.00 प्रतिशत से बढ़कर 6.50 प्रतिशत हो गया था।

    इस दौरान महंगाई में काफी कमी देखने को मिली है और जून 2023 में खुदरा महंगाई दर 4.81 प्रतिशत पर गई है। मौजूदा समय में महंगाई दर आरबीआई द्वारा तय किए गए बैंड 4-6 प्रतिशत के अंदर है। इस कारण ज्यादा जानकार मान रहे हैं कि ब्याज दरों को पिछली दो मॉनेटरी पॉलिसी की तरह ही स्थिर रखा जा सकता है।

    फरवरी 2023 के बाद सरकारी के साथ निजी बैंक की एफडी ब्याज दरों में कोई खास अंतर भी देखने को नहीं मिला है। रेपो रेट न बढ़ने की स्थिति में बैंक भी एफडी पर ब्याज नहीं बढ़ाएंगे।
    देश के 5 बड़े बैंक की एफडी पर ब्याज

    भारतीय स्टेट बैंक – 7.10 प्रतिशत

    बैंक ऑफ बड़ौदा – 7.25 प्रतिशत

    एचडीएफसी बैंक – 7.25 प्रतिशत

    आईसीआईसीआई बैंक -7.10 प्रतिशत

    पंजाब नेशनल बैंक – 7.25 प्रतिशत

    (नोट: ये ब्याज दरें बैंकों की ओर से अलग-अलग अवधि में सामान्य निवेशकों को दो करोड़ रुपये से कम की एफडी पर दी जा रही हैं)

    Leave a comment

    आमिर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म “महाराज” ओटीटी पर 14 जून को रिलीज होगी खूंखार लुक के साथ हुई Bajaj Pulsar NS400 लांच, सिर्फ इतने प्राइस में बनाएं अपना कियारा आडवाणी की चमकी किस्मत हाथ लगी सलमान खान की अपकमिंग फिल्म सिकंदर वेलकम टू द जंगल में इन स्टार की हुई एंट्री करेंगे फिल्म में धमाल The Great Indian Kapil Show: कपिल के शो में विक्की और सनी कौशल ने खोली एक दूसरे की पोल, हंस हंसकर लोट पोट हुए लोग