Zee-Sony मर्जर: 3 हिंदी चैनल को बेचने पर बनी सहमति, समझें- क्यों लिया फैसला

मीडिया समूह सोनी और Zee ने तीन हिंदी चैनल-बिग मैजिक, Zee एक्शन और Zee क्लासिक को बेचने के लिए स्वेच्छा से सहमति व्यक्त की है। दोनों कंपनियों ने प्रस्तावित विलय समझौते से जुड़ी संभावित प्रतिस्पर्धा रोधी चिंताओं को देखते हुए यह निर्णय लिया है। उन्होंने भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) को अपना प्रस्ताव पेश किया था और चार अक्टूबर को कुछ संशोधनों के बाद इस समझौते को मंजूरी दे दी गई थी।
क्या है आदेश: सीसीआई ने मंजूरी देने के तीन सप्ताह से अधिक समय बाद आदेश को सार्वजनिक कर दिया है। आदेश के मुताबिक दोनों कंपनियां हिंदी मनोरंजन चैनल बिग मैजिक को बेचने पर सहमत हो गई हैं। दोनों ने हिंदी फिल्म चैनल जी एक्शन और जी क्लासिक को भी बेचने पर सहमति व्यक्त की है।
सीसीआई की प्रथम दृष्टया राय के बाद दोनों कंपनियां प्रस्तावित सौदे में संशोधन के लिए स्वेच्छा से इसलिए सहमत हुई हैं, क्योंकि इस सौदे से प्रतिस्पर्धा पर काफी प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना है। एक निश्चित सीमा से अधिक के सौदों के लिए अनिवार्य रूप से सीसीआई की मंजूरी चाहिए होती है। नियामक बाजार में निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा सुनिश्चित करना चाहता है।
4 अक्टूबर को मंजूरी: सीसीआई ने चार अक्टूबर को कहा था कि उसने प्रस्तावित जी-सोनी विलय सौदे को मंजूरी दे दी है। इसकी घोषणा पिछले साल सितंबर में की गई थी। संबंधित बाजारों में उचित प्रतिस्पर्धा सुनिश्चित करने के लिए नियामक ने तीन चैनलों को खरीदने से पहले संबंधित खरीदार द्वारा पूरी की जाने वाली विभिन्न जरूरतों को भी अनिवार्य कर दिया है।

Leave a comment

आमिर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म “महाराज” ओटीटी पर 14 जून को रिलीज होगी खूंखार लुक के साथ हुई Bajaj Pulsar NS400 लांच, सिर्फ इतने प्राइस में बनाएं अपना कियारा आडवाणी की चमकी किस्मत हाथ लगी सलमान खान की अपकमिंग फिल्म सिकंदर वेलकम टू द जंगल में इन स्टार की हुई एंट्री करेंगे फिल्म में धमाल The Great Indian Kapil Show: कपिल के शो में विक्की और सनी कौशल ने खोली एक दूसरे की पोल, हंस हंसकर लोट पोट हुए लोग